The Website will be down for maintenance on Thursday, March 27,2015 from 8:00 A.M. to 1:30 P.M.

बाट:-

• लोहे के पुराने, पत्थर के या अन्य अमानक बाटों से वस्तुयें न खरीद।
• बाटों के नीचे छिद्र में शीशे पर माप-तौल विभाग की मुद्रा लगी होती है। देखें कि बाटों के नीचे छिद्र से कहीं शीशा तो नहीं निकाला है अथवा अन्यत किसी वस्तु से छिद्र भर कर बाटों का वजन कम तो नही किया गया है।

माप:-

• तरल पदार्थ खरीदते समय देखें कि माप उपकरण नीचे से या आजू-बाजू से पिचका हुआ तो नहीं है या माप की डण्डीा तो नहीं टूटी है।
• यह देखें कि विक्रेता मापक उपकरण में अॅगूठा डालकर तो द्रव्यि नहीं माप रहा है।
• यह देखें की मापके उपकरण पूरी तरह से भरा गया हैं एवं उड़ेलते समय पूरा खाली किया गया है।
• यह देखें की शंकु आकार का मापक उपकरण पिचका हुआ तो नहीं है या उसके अन्दयर कोई रबर, टीन या अन्य पदार्थ की पैकिंग लगाकर उसका आयतन छोटा तो नहीं किया गया है।

लम्बाकई मापक (मीटर)

• कपड़ा, तार या अन्य वस्तुस खरीदते समय यह देखे कि मीटर के दोनों सिरों पर तीर के निशान हैं।
• यह देखें कि मीटर हाथ से दबाकर आड़ा तिरछा या कम तो नहीं किया गया है।
• यह देखें की कपड़ा या अन्य़ वस्तुक खींचकर तो नहीं नापी जा रही है।

तराजू:-

• गोल डण्डी की तराजू अथवा भारी पलवे या फंसने वाले मोटे हुक की अवैध तराजू से तुलवाकर कोई वस्तु न खरीदे।
• यह देखें की तराजू में पासंग तो नहीं है।
• यह सुनिश्चित करें कि तराजू के नीचे चुम्बंक या अन्ये कोई वस्तुर तो नहीं रखी हैं।
• यह देखें की आटा तथा अन्यज वस्तु् तौलते समय पलडे को पैर का सहारा तो नहीं दिया जा रहा है या पैर से दबाया तो नहीं जा रहा है और पलडे दीवार या अन्यै वस्तुज से तो नहीं टेकरा रहे हैं। जिस पलवे पर बाट रखें हैं उसके नीचे कोई स्टेिण्डी तो नहीं बना है।
• रद्दी या अन्यत वस्तु बेचते समय ध्याबन रखें कि लकड़ी की तराजू से न बेचें। यह भी ध्यारन रखें कि तराजू में सेन्ट्रचल में सेन्ट्र ल नाइफ-एज फंस तो नहीं रहा है।

काउन्ट्र मशीन:-

• यह देखें कि पलडे के नीचे कोई सिक्का् या अन्यअ कोई वस्‍तु तो नहीं फंसाई गई है।
• यह देखें की काउन्टेर मशीन समतल व सहजगोचर स्थाथन पर रखी है।
• काउन्टेर मशीन के नीचे लीवर्स पर रबड बैंड अथवा धागा तो नही बांधा गया है।

पेट्रोल/डीजल पम्प

• पेट्रोल या डीजल खरीदते समय देखें कि प्रारंभ में मीटर शून्य् दर्शा रहा है।
• मीटर में दर्शाय गये माप अनुसार ही भुगतान करें। शंका होने पर उपभोक्ताह की सुविधा हेतु पम्पम संस्थान प पर रखे प्रमाणित माप से प्रदायगी की जॉंच करें।

इलेक्ट्रा निक मशीन:-

• तौल मशीन समतल पर हो एवं इस पर वर्ष तिमाही (क्वा्र्टर) व निरीक्षक के क्रमांक वाली मुद्रा तार व लेड द्वारा सीलकर अंकित हो।
• तौल करने से पहले सूचक (डिस्लेहे ) शून्य पर हो एवं अस्थिर न हो।
• तौल मशीन के सही होने की पुष्टि सत्यारपित बाट को तौलकर की जा सकती है।
• स्वर्ण आभूषण ढक्क्नदार तथा प्रथम अथवा द्वितीय शुद्धता श्रेणी वाली इलेक्ट्रा निक तौल मशीन से ही खरीदें।

टैक्सीा मीटर:-

• आटो रिक्शाट/टैक्सी में बैठने के पूर्व देखें कि मीटर, मीटर-गीयर तथा असेम्बिली पर माप-तौल विभाग की मुद्रा लगी है।
• आटो रिक्शाल/टिक्सी। में बैठते ही मीटर को डाउन करवायें और देखें कि मीटर प्रारंभिक किराया दर्शा रहा है।
• टैक्सीक में बैठते समय विशेष रूप से ध्या न देवें कि टैक्सीट मीटर का फ्लेग कहीं तिरछा तो नहीं है क्यों कि ऐसी स्थिति में उसमें वेटिंग चार्ज भी प्रारंभिक किराये में शामिल हो जावेगा। अत: तिरछा होने की स्थिति में मीटर के फ्लेग को पुन: घुमवाया जाकर प्रारंभिक किराये वाली स्थिति प्राप्तम हो जावें।

पैकेज (पहले से पैक की हुई वस्तुद)

• सामान्य त: सभी पैकेजों पर निम्ना नुसार घोषणायें आवश्यीक है:
(अ) निर्माता/पैकर/आयातकर्ता का नाम तथा पता।
(ब) पैक की हुइ वस्तुप का सामान्या या प्रजातिगत नाम।
(स) मानक इकाई में विशुद्ध मात्रा/संख्या ।
(इ) अधिकतम फुटकर मूल्यद................................... सभी करो सहित।
(फ) उपभोक्ताु की शिकायत की दशा में संपर्क करने हेतु व्य.क्ति अथवा कार्यालय का नाम, पता, दूरभाष क्रमांक, ई-मेल पता।
(ग) अतिरिक्तु संबंधित सूचना।
• यह देखें कि पैकेट पर अंकित मूल्यत को विक्रेता द्वारा काटा या बदला तो नहीं गया है।
• यह देखें कि पैकेट पर अंकित मूल्यत से अधिक मूल्य् में तो नहीं विक्रय किया जा रहा है।
• वजन में शंका होने पर तुलवाकर खरीदें।

सामान्य आवश्यजक जानकारी:-

• केवल दाशमिक प्रणाली (किलोग्राम/मीटर/लीटर) के माप-तौल उपकरणों से ही वस्तुे खरीदें।
• सभी माप-तौल उपकरणों पर माप-तौल विभाग की मुद्रा लगी होती है। इन मुद्राओं को देखें एवं सुनिश्चित करे कि मुद्रा दो वर्ष (केवल तराजू, बाट, माप एवं काउन्टओर मशीन में) एवं अन्या उपकरणों में एक वर्ष से अधिक पुरानी तो नहीं है।
• मिठाई को डिब्बेश सहित नहीं तुलवायें। तौल या वजन में देखें कि कहीं डिब्बेी का वजन तो शामिल नहीं किया जा रहा है।
• घरेलू प्रयोग गैस की टंकी में गैस का वजन सामान्येत: 14.2 किलोग्राम होता है। इस टंकी पर खाली टंकी का वजन भी अंकित रहता है। हॉकर/विक्रेता के पास स्प्रिंग बैलेंसे रहता है। शंका होने पर गैस की टंकी तुलवाकर खरीदें।
• जाली मुद्रा बनाने पर छ: माह से लेकर दो वर्ष तक की सजा का प्रावधान है।
• अमानक बाट तथा माप का उपयोग करने पर अर्थदण्डल रू. 2000 से 5000/- तक का प्रावधान है।
• पैकेज में घोषणा संबंधी किसी भी तरह की अनियमितता किये जाने पर रू.25000/- तक का अर्थदण्ड का प्रावधान है।
• पैकेज में कम मात्रा संबंधी किसी भी तरह की अनियमितता किये जाने पर रू.. 5000/- तक का अर्थदण्डी का प्रावधान है।
• बाट ,माप, पेट्रोल पम्प , टैक्सीू मीटर, गैस टंकी, पैकेज आदि में गड़बड़ अनुभव करने पर स्था,नीय माप-तौल निरीक्षक को अपने पते सहित शिकायत प्रस्तुत करें, ताकि दोषी व्य क्ति के विरूद्ध नियमानुसार आवश्य्क कार्यवाही की जा सकें।
• माप तौल विभाग द्वारा कार्यवाही केन्द्रन सरकार द्वारा प्रवर्तित विधिक मापविज्ञान अधिनियम, 2009 एवं उनके तहत केन्द्र एवं राज्‍य शासन द्वारा बनाये गये नियमों के अन्तभर्गत की जाती है।
• उपभोक्ता् की शिकायतों के त्वतरित निराकरण हेतु सूचनायें निम्नामनुसार पते पर दी जा सकती है:-
1.1 उपभोक्ताै निदेशालय, (विधिक मापविज्ञान प्रकोष्ठं ) आर.टी.डी.सी. मुख्याभलय का प्रथम (होटल स्वाकगत परिसर ) रेल्वेा स्टे शन, के पास, जयपुर।
1.2 राज्य् स्त्रीय हैल्पटलाइन (18001806030)संबंधित उपभोक्ता‍ संरक्षण अधिकारी एवं विधिक मापविज्ञान अधिकारी